आपका समर्थन, हमारी शक्ति

रविवार, 14 फ़रवरी 2010

पहला प्यार (वेलेंटाइन दिवस पर)




पहली बार
इन आँखों ने महसूस किया
हसरत भरी निगाहों को

ऐसा लगा
जैसे किसी ने देखा हो
इस नाजुक दिल को
प्यार भरी आँखों से

न जाने कितनी
कोमल और अनकही भावनायें
उमड़ने लगीं दिल में

एक अनछुये अहसास के
आगोश में समाते हुए
महसूस किया प्यार को

कितना अनमोल था
वह अहसास
मेरा पहला प्यार !!

(जीवन साथी कृष्ण कुमार जी को समर्पित)
एक टिप्पणी भेजें