आपका समर्थन, हमारी शक्ति

बुधवार, 25 जून 2014

लड़कियों को छेड़ा तो जोरदार करंट मारेगी सैंडिल

महिलाओं के साथ जिस तरह अत्याचार हो रहे हैं और उनकी सुरक्षा के लिए खतरा पैदा हो रहा है, ऐसे माहौल में शासन-प्रशासन के साथ ही कुछ विद्यार्थी भी इस प्रयास में जुटे हैं कि महिलाएं सुरक्षित रहें और उनकी स्वतंत्रता भी प्रभावित न हो। हाल ही में कुछेक ऐसे अविष्कारों के बारे में पढ़ना रोचक भी लगा और अच्छा भी। गौर कीजिये- छेड़खानी करने वालों को झटका देने वाली सैंडिल और लोकेशन बताने वाली लेडीज जींस।  

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लोकसभा क्षेत्र वाराणसी में स्थित अशोका इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी एंड मैनेजमेंट के छात्र-छात्राओं ने इस दिशा में अनूठे प्रयास किये हैं। इनमें  बीटेक (कंप्यूटर साइंस) की द्वितीय वर्ष की छात्रा सलोनी यादव ने ऐसी फैशनेबल सैंडिल का अविष्कार किया है, जो जीपीएस से लैस है। यह सैंडिल पहनने वाली की लोकेशन बताती है। करीब 2,800 रुपए लागत वाली इस सैंडिल को पांच से छह महीने के बीच सिर्फ दो घंटे चार्ज करना पड़ता है। 

फैशनेबल सैंडिल कई बार अन्य कार्य भी कर सकती है।  तभी तो सीएस द्वितीय वर्ष की छात्रा रिजुल पांडे ने करंट वाली सैंडिल पेश की है। यह सैंडिल किसी को मारने पर उसे जोरदार झटका देती है। बटन दबते ही यह एक्टिव हो जाती है और छेड़खानी करने वालों को ऐसा झटका देती है कि वह बेहोश भी हो सकता है। इसके मोटे सोल के तल पर करंट प्रवाहित करने वाले उपकरण लगे हुए हैं। इसकी लागत एक हजार रुपए है । 

इसी संस्थान की  दीक्षा पाठक व इलेक्ट्रानिक्स एंड कम्युनिकेशन की छात्रा अंजली ने एक विशेष किस्म का लेडीज जींस पेश किया है , जिसमें लगा डिवाइस आपात स्थिति में बटन दबाने पर पांच ऐसे लोगों को सूचना भेज देगा, जिनके नंबर उसमें फीड होंगे। 

वाकई, अब समय आ गया है कि फैशन के साथ-साथ ऐसे यंत्रों का अविष्कार किया जाये जो हमारी दिनचर्या में भी शामिल हों और सुरक्षा भी दें !!
एक टिप्पणी भेजें